• Jhuk Aayee Badariya Sawan Ki

Jhuk Aayee Badariya Sawan Ki - झुक आयी बदरिया सावन की

मीरा को तर्क और बुद्धि से मत सुनना। 
मीरा का कुछ तर्क और बुद्धि से लेना-देना नहीं है। 
मीरा को भाव से सुनना, भक्ति से सुनना, श्रद्धा की आंख से देखना। 
हटा दो तर्क इत्यादि को, किनारे सरका कर रख दो। 
थोड़ी देर के लिए मीरा के साथ पागल हो जाओ। 
यह मस्तों की दुनिया है। 
यह प्रेमियों की दुनिया है। 
तो ही तुम समझ पाओगे, अन्यथा चूक जाओगे। 
ओशो

 

विषय सूची

प्रवचन 1 : भक्ति: एक विराट प्यास

प्रवचन 2 : मनुष्य: अनखिला परमात्मा

प्रवचन 3 : मीरा से पुकारना सीखो

प्रवचन 4 : समन्वय नहीं—साधना करो

प्रवचन 5 : हे री! मैं तो दरद दिवानी

प्रवचन 6 : संन्यास है—दृष्टि का उपचार

प्रवचन 7 : भक्ति का प्राण: प्रार्थना

प्रवचन 8 : जीवन का रहस्य—मृत्यु में

प्रवचन 9 : भक्ति: चाकर बनने की कला

प्रवचन 10 : प्रेम श्वास है आत्मा की

 

 

Jhuk Aayee Badariya Sawan Ki

  • Product Code: Jhuk Aayee Badariya Sawan Ki
  • Availability: In Stock

Tags: Jhuk Aayee Badariya Sawan Ki, Hindi Books