• Ek Omkar Satnam

Ek Omkar Satnam - एक ओंकार सतनाम

नानक-वाणी पर ओशो के प्रवचनों ने कुछ ऐसी चीजों को लेकर मेरे आंख-कान खोले, जिनके बारे में पहले ज्यादा नहीं जानता था। हर अमृत वेला के समय में मैंने ओशो के प्रवचनों को सुना, जिनमें ओशो व्याख्या के लिए वेद-उपनिषदों और मुस्लिम सूफी संतों की शिक्षाओं का उल्लेख करते हैं। इससे मेरा यह विश्वास और भी दृढ़ हो गया कि ओशो हमारे देश में जन्मी महान आत्माओं में से एक हैं। ओशो के ये प्रवचन केवल सिखों के लिए ही नहीं, बल्कि उन सबके लिए उपयोगी हैं जो स्वयं को भक्ति-मार्ग की परंपरा से अवगत करना चाहते हैं। 
खुशवंत सिंह
अंतर्राष्टीय ख्याति-प्राप्त 
लेखक एवं पत्रकार

नानक ने परमात्मा को गा-गाकर पाया। गीतों से पटा है मार्ग नानक का। इसलिए नानक की खोज बड़ी भिन्न है। नानक ने योग नहीं किया, तप नहीं किया, ध्यान नहीं किया। नानक ने सिर्फ गाया। और गाकर ही पा लिया। लेकिन गाया उन्होंने इतने पूरे प्राण से कि गीत ही ध्यान हो गया, गीत ही योग बन गया, गीत ही तप हो गया। ओशो

 

विषय सूची

प्रवचन 1 : आदि सचु जुगादि सचु 
प्रवचन 2 : हुकमी हुकमु चलाए राह 
प्रवचन 3 : साचा साहिबु साचु नाइ 
प्रवचन 4 : जे इक गुरु की सिख सुणी 
प्रवचन 5 : नानक भगता सदा विगासु 
प्रवचन 6 : ऐसा नामु निरंजनु होइ 
प्रवचन 7 : पंचा का गुरु एकु धिआनु 
प्रवचन 8 : जो तुधु भावै साई भलीकार 
प्रवचन 9 : आपे बीजि आपे ही खाहु 
प्रवचन 10 : आपे जाणै आपु 
प्रवचन 11 : ऊचे उपरि ऊचा नाउ 
प्रवचन 12 : आखि आखि रहे लिवलाइ 
प्रवचन 13 : सोई सोई सदा सचु साहिब 
प्रवचन 14 : आदेसु तिसै आदेसु 
प्रवचन 15 : जुग जुग एको वेसु 
प्रवचन 16 : नानक उतमु नीचु न कोइ 
प्रवचन 17 : करमी करमी होइ वीचारु 
प्रवचन 18 : नानक अंतु न अंतु 
प्रवचन 19 : सच खंडि वसै निरंकारु 
प्रवचन 20 : नानक नदरी नदरि निहाल

 

 

 

Ek Omkar Satnam

  • Product Code: Ek Omkar Satnam
  • Availability: In Stock

Tags: Ek Omkar Satnam, Hindi Books